Browsing: भवरदान झणकली

गीत:~गाँधीड़ो रचना:~कविराज स्व.श्री भंवर दान जी बीठू(मधुकर)झणकली ~~~~~~~~~~~~~~~~ ऐवड़ छेवड़ छायी अभंग,ब्रिटिश घटा बिकराल। चीरतो डांफरचमकियो चोखो,कांगरेसी किरणाल ।। गोंधीडो़…

चारण समुदाय के कोहिनूर डिंगळ पिंगळ के महाकवि महामना प.पू.भँवरदानजी बीठू “मधुकर” झणकली की आज पुण्यतिथि पर भावपूर्ण श्रद्धांजलि एवम्…

महिपर मोलत दीजो माता में चारण देखण चाहता। सरग कैलाश वैकुण्ठ नी मांगू, मुक्ति रो नही शोक।लाज मरजाद बोल अमोलख…