April 2, 2023

सुणजै सुरराय अमीणी साहल़

गीत – जांगड़ो सुणजै सुरराय अमीणी साहल़, दया धार दिल देवी। आयो कोप आपरां ऊपर, कोरोना सो केवी।।१ चीन चूंथ इटली पण चूंथी, अबखी में अमरीका। आयो कटक हिंद रै ऊपर, तण दंत कीना तीखा।।२ डरगी रैत अबरकै देवी, मान मनां महामारी। दूजी नहीं औखधी दीसै, थिर छाया सिर थारी।।३ …

सुणजै सुरराय अमीणी साहल़ Read More

ठग्गां रो मिटसी ठगवाड़ो

गीत-जांगड़ो सरपंची रो मेल़ो सजियो, भाव देखवै भोपा। धूतां धजा जात री धारी, खैरूं होसी खोपा।।1 दूजां नै दाणो नीं दैणो, एक समरथन आपै। वित लूटण मनसोबा बांधै, जनहित झूठा जापै।।2 पड़ियां अड़ी दांत ना पूंछै, खोद्यां राखै खाडा। चारजनम रो वैर चितारै, आय ऊभै झट आडा।।3 पद पायां बहिया …

ठग्गां रो मिटसी ठगवाड़ो Read More

आंधै विश्वास तणो अंधियारो!

।।गीत जांगड़ो।। आंधै विश्वास तणो अंधियारो, भोम पसरियो भाई। पज कुड़कै में लिखिया पढिया, गैलां शान गमाई।।1 फरहर धजा बांध फगडाल़ा, थांन पोल में ठावै। बण भोपा खेल़ा पण बणनै, विटल़ा देव बोलावै।।2 पद थप केक भोमिया पित्तर, निसचै थापै नाडा। भोल़ा केक जिकण में भुसकै, खप दैणी इण खाडा।।3 …

आंधै विश्वास तणो अंधियारो! Read More
error: Content is protected !!