Author: admin

वंदे श्री करणी सोनल मातरम्🙏🚩 सम्मानित स्वजनों सादर जय श्री माताजी री सा-यह हम सभी के लिए परम सौभाग्य की बात है कि 25 दिसम्बर 2022 को चारणत्व की दिव्य ज्योति, चारण – गढ़वी चेतना की प्रखर पुंज “आई श्री सोनबाई मां” (श्री सोनल माँ) के अवतरण की जयंती है। इस वंदनीय अवसर पर जहा – जहा भी इस बार सोंनल बीज मोहत्सव मनाया जाएगा जिनका विशेष विवरण इस प्रकार है⤵ 01. आई श्री सोंनल मां प्रागट्य स्थान, सोनलधाम मढड़ा, तह.- केशोद, जिला – जुनागढ गुजरात. 02. आई श्री सोंनल मां समाधि स्थान कणेरी, तह. केशोद, जिला – जुनागढ, गुजरात.…

Read More

आई श्री देवल माँ बलियावल द्वारा जुनागढ़ से आई श्री करणी माँ धाम देसनोक यात्रा पंच दिवसीय आई श्री करणी माँ देसनोक यात्रा* आई श्री देवल माँ बलियावल द्वारा जुनागढ़ से आई श्री करणी माँ धाम देसनोक यात्रा, यात्रा प्रारंभ दिनाक 25/08/2021 से दिनाक 29/08/2021 तक रहेगी जिसमे मुख्य 05 तीर्थ स्थल सामिल है जो इस प्रकार है –01. ईशरदास धाम – भादरेस, बाड़मेर02. आवड़ माँ धाम – तेमड़ेराय, जैसलमेर03. आवड़ माँ धाम – भादरीयाराय, जैसलमेर04. करणी माँ धाम – गड़ियाला, बीकानेर05. करणी माँ धाम – देसनोक, बीकानेरइस यात्रा के दौरान आई श्री देवल माँ द्वारा चारणों के गांवों का…

Read More

शिक्षा के क्षेत्र में चारण गढ़वी समाज को उन्नति के शिखर पर पहुंचाने के लिए आज से 50 साल पहले, प.पु. आईश्री सोनबाई माँ (मढ़ड़ा) ने चारण समाज के छात्राओं के लिए जूनागढ़ में चारण बोर्डिंग की स्थापना की थी। अत्यंत गौरवपूर्ण बात है कि समाज के अनेकों छात्र अपना उज्जवल भविष्य बना कर इस छात्रावास से निकले हैंआईश्री सोनल चारण सभा शिक्षा और धर्मार्थ ट्रस्ट द्वारा प्रबंधित, श्री कांजीभाई नागैया चारण छात्रावास, जूनागढ हैस्थापना दिनाक. 30/06/1970 से इन 50 वर्षों के स्वर्णिम काल के दौरान, कई छात्रों ने इस छात्रावास की यादें ताजा की हैं। आईश्री सोनबाई की कृपा…

Read More

वर्तमान समय मे चारण समाज में कैरियर निर्माण के विविध अवसर शाक्त मतावलंबी एवं साहित्य सृजक रही चारण जाति की पिछली 7-8 शताब्दियों से तत्कालीन शासन एवं समाज में महत्वपूर्ण भूमिका रही है। ज्ञात प्रारंभिक ऐतिहासिक काल में चारण जाति के लोग गो – चारण एवं अश्वपालन / व्यापार का कार्य करते थे। इन लोगों का प्रारंभिक निवास क्षेत्र कच्छ, थारपाकर एवं मरूप्रदेश रहा है। मरूप्रदेश में निवासरत एवं अन्य क्षेत्रों से यहाँ आकर जागीर प्राप्त करने वाले चारण ‘मारू’ कहलाये। मारू चारणों में से अनेको विद्वतजनों ने तत्कालीन शासन में अपनी साहित्यधर्मिता एवं विद्वता का परिचय देकर ख्याति अर्जित…

Read More

🚩अखिल भारतीय चारण गढवी महासभा(युवा)प्रथम राष्ट्रीय कार्यकारिणी की घोषणा ।। माँ भगवती के परम आदेश से अखिल भारतीय चारण गढवी महासभा के माननीय अध्यक्ष श्री सी.डी. देवल साहब व माननीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री ओंकारसिंहजी लखावत साहब से एकमत चर्चा कर समाज के शीर्ष वरिष्ठों की अनुशंषा पर ABCG महासभा (युवा) राष्ट्रीय कार्यकारिणी की महान क्रांतिकारी कुंवर प्रतापसिंह बारहठ जयंती व शहादत दिवस ओर सगत लूँग माँ के जन्मोत्सव दिवस शुभ अवसर पर ABCG facebook page live (डिजिटल मंच) के माध्यम से 24 मई 2020 को घोषणा की गई। कार्यक्रम शाम 7:00 बजे फेसबुक पर लाइव रहा। कार्यक्रम का संचालन विवेक…

Read More

WHO WE ARE (ABOUT CGIF) INTRODUCTION: Charan-Gadhvi International Foundation (CGIF) is a registered company, which got it registered under the revised company act 2013/8B. The company (CGIF) will have max. 20 non-paid Directors (Board) who will be owning the company. CGIF will work for the welfare, cultural exchange, economical activities, educational aids and sustainable progress of Charan-Gadhvi community. CGIF will have Systematic & Organized network within 18 defined Regions in India and abroad. All eligible Charan can be a member of this Company (Organization) and work for the welfare of community. Management Aspects of CGIF: The management structure will be…

Read More

अवतरण आद्य शक्ति हिंगलाज माँ, आवड़ माँ, खोडियार माँ, सेणल माँ, बहुचरा माँ, करणी माँ, राजल माँ, सोनल माँ की चारण कुल की दैविय परम्परा में सगत लूंग माँ का अवतरण हुआ है। लूंग माँ का जन्म विक्रम संवत 1987 की ज्येष्ठ सुदी बीज को सिरोही जिले के वलदरा गाँव में हुआ। आपके पिताजी का नाम श्री अजीतदानजी दूदावत आशिया एवं माता का नाम मैतबाई था। लूंग माँ के एक बड़े भाई पाबुदानजी, छोटे भाई वरदीदानजी एवं दो बड़ी बहने है, जिनमें मीराबाई का ससुराल राबड़ियावास पाली है एवं दरीयाव बाई का ससुराल रूपावटी जालौर में है। लूंग माँ का ननीहाल…

Read More

✍️ राष्ट्रभक्त मित्रों, आज हम बात करेंगे महाप्रतापी महाराणा प्रताप जी की धरती पर जन्मे अद्भूत, अद्वितीय तथा त्याग व बलिदान के प्रतीक कुँवर प्रताप सिंह बारहठ जी की, जिनकी आज 127वीं जयंती एवम् 102वें बलिदान दिवस पर हमें नतमस्तक होने का सुअवसर प्राप्त हुआ है । वि.सं. 1950 ज्येष्ठ शुक्ल नवमी तदनुसार तिथि 24 मई 1893 को उदयपुर, राजस्थान में क्रांतिकारी पिता केसरी सिंह बारहठ एवम् माता माणक कुँवर के सुपुत्र कुँवर प्रताप सिंह बारहठ ने प्राथमिक शिक्षा दयानंद स्कूल जैन बोर्डिंग से की। तत्पश्चात पिता केसरी सिंह बारहठ ने बालक प्रताप को क्रांतिकारी अर्जुन लाल सेठी जी के गोद…

Read More

अखिल भारतीय चारण गढवी महासभा क्रमांकपदपदाधिकारीओं नाम पर क्लिक करेंमोबाइल नम्बर1.अध्यक्षC.D. देवल साहब94140512143.कार्यकारी अध्यक्षओंकारसिंह लखावत94140076103.युवा अध्यक्षहिगलाजदान m. नांदिया 9982779187 राज्य के नाम पर क्लिक करे क्रमांकराज्य 01.राजस्थान02.गुजरात03दिल्ही, मुंबई, पुना, चेन्नई, बेगलुर ट्रस्ट/संस्था के नाम पर क्लिक करे क्रमांकट्रस्ट/संस्थामोबाइल नम्बर01. चारण गढवी इंटरनेशनल फाउंडेशन•Raja Rudach (managing Director)•Shri S K Langa, chairman

Read More

चारण – गढवी समाज के संस्था/ट्रस्ट/मंडल की जानकारी – राजस्थान क्रमांकसंगठन संस्था का नामपदाधिकारीओ नाममोबाइल नम्बर1.श्री सैणलाराय सेवा संस्थान जुड़िया, जोधपुरलक्ष्मणदान लालस (नेरवा94147225432.सगत लूंग मां ट्रस्ट वलदरा – शिरोहीमुरारदानजी95491925163.करणी सेवा मंडल ट्रस्ट उदयपुरप्रहलादसिंह बारहठ99288259184.अमर शहीद कुंवर प्रतापसिंह बारहठ संस्थान शाहपुराकैलाशसिंहजी जाडावत94138234035.रॉयल संस्थान उदयपुरहरेन्द्रजी सौदा C.I.94141017006.श्री करणी चारण युवा संघ जयपुरअभिनवजी कविया98287813037.जयपुर प्रांतीय चारण महासभासम्पतसिंहजी94140755478.अजमेर चारण महासभाभंवरसिंहजी रलयावता9413334499.कोटा चारण समाजराजेंद्रसिंहजी भादा984911010110.वागड़ चारण महासभालक्ष्मणसिंहजी महियारीया935125442611.जोधपुर प्रांतीय चारण महासभाबुधदानजी अमरावत (मथानिया)916651305212.बाड़मेर चारण समाजनर्सिंहदानजी देथा900137337713.बालोतरा चारण समाजनरपतसिंहजी रतनू946084075614.जालौर चारण समाजबद्रीदानजी टापरिया, (नरपुरा)941454481715.जैसलमेर चारण समाजनैनदानजी रतनू963654095216.पाली चारण समाजप्रदीप सा (नोख)977286264017.सिरोही चारण समाजएडवोकेट राजेंद्रसिंहजी आढा (झांकर)941442815518.नागौर चारण समाजभैरूसिंहजी (खुड़द)941470860719.बीकानेर चारण समाजमोहनदानजी (मंडाल)982845504320.मेवाड़ चारण महासभाभैरूसिंहजी सौदा900111145721.धाट पारकर…

Read More